2005 Top Ten of Polemic for People

राबड़ी देवी
राबड़ी देवी स्वतन्त्र भारत में बिहार प्रान्त की पहली महिला मुख्यमन्त्री थीं। राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी 25 जुलाई 1997 को बिहार की मुख्यमन्त्री उस समय बनीं जब
ऑक्सफोर्ड इंग्लिश डिक्शनरी
द ऑक्सफोर्ड इंग्लिश डिक्शनरी, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस द्वारा प्रकाशित अंग्रेज़ी भाषा का वर्णात्मक शब्दकोश है। शब्दों के विश्व के प्रत्येक भाग की विभिन्न प्रकार के अंग्रेज़ी भाषा में
मनमोहन सिंह
मनमोहन सिंह भारत गणराज्य के १३वें प्रधानमन्त्री थे। साथ ही साथ वे एक अर्थशास्त्री भी हैं। लोकसभा चुनाव २००९ में मिली जीत के बाद वे जवाहरलाल नेहरू के बाद भारत के पहले ऐसे प्रधानमन्त्री बने, जिनको
सचिन तेंदुलकर
सचिन रमेश तेंडुलकर Sachin Tendulkar, जन्म: 24 अप्रैल 1973) क्रिकेट के इतिहास में विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ में माने जाते हैं। भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित होने वाले वह सर्वप्रथम खिलाड़ी
कोफ़ी अन्नान
कोफ़ी अन्नान(जन्म: 8 अप्रैल 1938 - निधन: 18 अगस्त 2018) मूलरूप से घाना के रहने वाले थे । वे विश्व के प्रमुख राजनेताओं में से एक थे । उन्होंने अफ्रीका के विभिन्न देशों में सीमाई विवादों को हल करने में संयुक्त
जवाहरलाल नेहरू
जवाहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमन्त्री थे और स्वतन्त्रता के पूर्व और पश्चात् की भारतीय राजनीति में केन्द्रीय व्यक्तित्व थे। महात्मा गांधी के संरक्षण में, वे भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन के
परवेज़ मुशर्रफ़
परवेज़ मुशर्रफ़ पाकिस्तान के राष्ट्रपति और सेना प्रमुख रह चुके हैं। इन्होंने साल 1999 में नवाज़ शरीफ की लोकतान्त्रिक सरकार का तख्ता पलट कर पाकिस्तान की बागडोर संभाली और 20 जून, 2001 से 18 अगस्त 2008 तक पाकिस्तान
बेनज़ीर भुट्टो
बेनज़ीर भुट्टो(उर्दू: بینظیر بھٹو) पाकिस्तान की १२वीं व १६वीं प्रधानमंत्री थीं। रावलपिंडी में एक राजनैतिक रैली के बाद आत्मघाती बम और गोलीबारी से दोहरा अक्रमण कर, उनकी हत्या कर दी गई। पूरब की बेटी के
शेन वॉर्न
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी है जिन्हें व्यापक रूप से खेल के इतिहास में सबसे महान गेंदबाजों में से एक माना जाता है। 1992 में शेन वॉर्न ने अपना पहला टेस्ट मैच खेला था और श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन
पी॰ वी॰ नरसिम्हा राव
पामुलापति वेंकट नरसिंह राव भारत के 10 वें प्रधानमंत्री के रूप में जाने जाते हैं। 'लाइसेंस राज' की समाप्ति और भारतीय अर्थनीति में खुलेपन उनके प्रधानमंत्रित्व काल में ही आरम्भ हुआ। ये आन्ध्रा प्रदेश