2009 Top Ten of Polemic for History

स्टालिनग्राड का युद्ध
द्वितीय विश्व युद्ध की एक महत्व्पूर्ण लडाई जिसमे लाल सेना ने नाजी सेना को बुरी तरह से परास्त किया था। सोवियत संघ के इस नायक ने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान स्टेलिनग्राद की लड़ाई में 300 से अधिक
डेनिश भारत
डेनिश भारत, भारत में डेनमार्क के पूर्व उपनिवेशवादी के लिए शब्द है। डेनमार्क के शहर सहित, 225 वर्षों से भारत में औपनिवेशिक संपत्ति आयोजित त्रन्क़ुएबर वर्तमान में तमिलनाडु राज्य, श्रीरामपुर वर्तमान
उस्मानी साम्राज्य
उस्मानी सलतनत १२९९ में पश्चिमोत्तर अनातोलिया में स्थापित एक तुर्क राज्य था। महमद द्वितीय द्वारा १४५३ में क़ुस्तुंतुनिया जीतने के बाद यह एक साम्राज्य में बदल गया। प्रथम विश्वयुद्ध में १९१९ में
जनवरी
जनवरी ग्रेगोरी कैलंडर का पहला महीना है। यह उन सात महीनों में से एक है जिनके दिनों की संख्या ३१ होती है। एक जनवरी को नववर्ष धूम धाम से मनाया जाता है। उत्तरी भारत में इस माह सबसे ज्यादा सर्दी पड़ती
मुग़ल वास्तुकला
मुगल वास्तुकला, जो कि भारतीय, इस्लामी एवं फारसी वास्तुकला का मिश्रण है, एक विशेष शैली, जो कि मुगल भारत में 16वीं 17वीं एवं 18वीं सदी में लाए|मुगल वास्तुकला का चरम ताजमहल है। मुगल वास्तुकला का विकास एक कर्मिक
स्वतंत्रता सेनानी
स्वतंत्रता सेनानी, वह व्यक्ति होता है जो अपने स्वय के स्वार्थ को छोड़कर देश के हित के लिए कार्य करता है तथा अपने देश अपनी मातृ भूमि की स्वतंत्रता के लिए लड़ी गई लड़ाई में भाग लेता है और अपने
मगध महाजनपद
मगध प्राचीन भारत के 16 महाजनपदों में से एक था। आधुनिक पटना तथा गया जिला इसमें शामिल थे। इसकी राजधानी गिरिव्रज पाटलिपुुुत्र थी। भगवान बुद्ध के पूर्व बृहद्रथ तथा जरासंध यहाँ के प्रतिष्ठित राजा थे
सेल्यूलर जेल
यह जेल अंडमान निकोबार द्वीप की राजधानी पोर्ट ब्लेयर में बनी हुई है। यह अंग्रेजों द्वारा भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सेनानियों को कैद रखने के लिए बनाई गई थी, जो कि मुख्य भारत भूमि से हजारों किलोमीटर
रणथम्भोर दुर्ग
रणथंभोर दुर्ग दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग के सवाई माधोपुर रेल्वे स्टेशन से १३ कि॰मी॰ दूर रन और थंभ नाम की पहाडियों के बीच समुद्रतल से ४८१ मीटर ऊंचाई पर १२ कि॰मी॰ की परिधि में बना एक दुर्ग है। दुर्ग के तीनो
माओ से-तुंग
माओ से-तुंग या माओ ज़ेदोंग चीनी क्रान्तिकारी, राजनैतिक विचारक और साम्यवादी (कम्युनिस्ट) दल के नेता थे जिनके नेतृत्व में चीन की क्रान्ति सफल हुई। उन्होंने जनवादी गणतन्त्र चीन की स्थापना से