2010 Top Ten of Polemic for Society

मूल अधिकार
वे अधिकार जो लोगों के जीवन के लिये अति-आवश्यक या मौलिक समझे जाते हैं उन्हें मूल अधिकार कहा जाता है। प्रत्येक देश के लिखित अथवा अलिखित संविधान में नागरिक के मूल अधिकार को मान्यता दी गई है। ये मूल अधिकार
प्रयत्न (संस्था)
विधिसंहिता का इतिहास
संहिता का शाब्दिक अर्थ है संग्रह। अत: विधिनियमों का लिपिबद्ध रूप ही, सामान्य अर्थों में, विधिसंहिता कहलाता है। विधिनियमों के विकासक्रम में यह अत्यंत उच्च स्तर माना गया है क्योंकि विधि का
अल-क़ायदा
अल-क़ायदा एक बहुराष्ट्रीय उग्रवादी सुन्नी इस्लामवादी संगठन है जिसका स्थापना ओसामा बिन लादेन, अब्दुल्लाह आज़म और 1980 के दशक में अफ़ग़ानिस्तान पर सोवियतों के आक्रमण के विरोध करने वाले कुछ अन्य अरब
बाल विवाह
बालविवाह केवल भारत मैं ही नहीं अपितु सम्पूर्ण विश्व में होते आएं हैं और समूचे विश्व में भारत का बालविवाह में दूसरा स्थान हैं। सम्पूर्ण भारत मैं विश्व के 20 प्रतिसतबालविवाह होते हैं और समूचे भारत
बी एन अग्रवाल
बी एन अग्रवाल भारत के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश हैं
बौद्धिक सम्पदा अधिकार
बौद्धिक सम्पदा अधिकार मानव-मस्तिष्क की उपज हैं। दुनिया के देश, कई सदियों से अपने-अपने कानून बना कर इन्हे सुरक्षित करते चले आ रहें हैं। सन १९९५ में विश्व व्यापार संगठन बना। Agreement on the Trade related aspect of intellectual property
बी सुदर्शन रेड्डी
बी सुदर्शन रेड्डी भारत के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश हैं
बी एन कृपाल
बी एन कृपाल भारत के सर्वोच्च न्यायालय के भूतपूर्व न्यायाधीश रहे हैं
बिड़ला कॉर्पोरेशन
बिरला कॉर्पोरेशन लिमिटेड, कोलकाता में स्थित एक भारतीय कंपनी है। यह बिरला समूह की कंपनी है